Headlines

नेशनल

कर्नाटक चुनाव की तारीख लीक होने पर चुनाव आयोग गंभीर, समिति गठित की

केंद्रीय चुनाव आयोग के कर्नाटक विधानसभा चुनाव कार्यक्रम की घोषणा से पहले बीजेपी आईटी सेल हेड अमित मालवीय द्वारा चुनावी कार्यक्रम की तारीख ट्विटर पर शेयर करने के मामले को चुनाव आयोग ने गंभीरत से लिया है। इसको लेकर चुनाव आयोग ने एक समिति का गठन किया है, समिति को मामले की पूरी जांच करके रिपोर्ट सात दिन में दाखिल करने को कहा गया है।
चुनाव आयोग की जारी विज्ञाप्ति के मुताबिक  कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2018 की घोषणा करने के चंद मिनट पहले अमित मालवीय ने एक ट्वीट के माध्यम से मतदान की तिथि 12 मई, 2018 होने तथा मतगणना की तिथि 18 मई, 2018 होना बताया था।

 

दूसरा ट्वीट कर इस जानकारी के पीछे उन्होंने टाइम्स नाउ न्यूज चैनल को अपना स्रोत बताया था। ट्वीट में यह बताया गया है कि मतदान की तारीख 12 मई, 2018 और मतगणना की तारीख 18 मई, 2018 है। आयोग ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मामले की जांच तथा आवश्यक व प्रभावी कार्रवाई का आदेश दिया। हालांकि, उनकी जानकारी के मुताबिक कर्नाटक विधानसभा चुनाव की तारीख 12 मई 2018 सही है जबकि मतगणना 18 मई की तारीख बिल्कुल सही नहीं है। कर्नाटक चुनाव की मतगणना 15 मई को होगी।

 

आयोग ने भारत निर्वाचन आयोग के वरिष्ठ अधिकारियों की एक समिति का गठन किया है, जो मामले की जांच करेगी और सात दिनों के अंदर रिपोर्ट सौंपेगी। समिति भविष्य में इस प्रकार का कार्य न होने के लिए सुझाव भी प्रस्तुत करेगी। आयोग द्वारा गठित कमिटी ने कार्रवाई प्रारंभ करते हुए संबंधित मीडिया संगठनों और व्यक्तियों से जानकारी मांगी है।  कर्नाटक विधानसभा चुनाव के मतगणना की वास्तविक तिथि 15 मई, 2018 है।

 

गौरतलब है कि बीजेपी आईटी सेल के हैड अमित मालवीय ने चुनाव आयोग के चुनाव की तारीख के एलान से चंद मिनटों पहले ट्वीट कर चुनाव की तारीख 12 मई और वोटिंग काउंटिंग की तारीख 18 मई बताई थी। कांग्रेस ने इस ट्वीट पर बीजेपी को घेरा था। इस मामले पर बीजेपी के प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयुक्त से मुलाकात कर सफाई की है।  

 

News & Event

Tazaa Khabre