Headlines

बॉलीवुड

कड़े संघर्ष के बाद बॉलीवुड के अनमोल हीरे बने इरफान, लंबी है उनके काम की फेहरिस्त

बॉलीवुड के दिवंगत एक्टर इरफान खान भले ही अब इस दुनिया में नहीं हो लेकिन, उनको भूलना इतना आसान नहीं है। उनके फैंस उन्हें अभी तक नहीं भुला पा रहे हैं। उनका हंसता हुआ चेहरा आज भी लोगों के दिलो दिमाग में बसा हुआ है। उनके बहुमुखी प्रतिभा और डाउन टू अर्थ नेचर ने फैंस को उनके और करीब ला दिया था। वह फैंस और खुद के बीच कभी दूरी नहीं रखते थे। फैंस के साथ बिना दूरी और डिस्टेंसिंग के मिलते थे। इरफान खान को गए हुए अभी पूरा एक साल भी नहीं हुआ है।
 
इरफान खान का 29 अप्रैल,2020 को न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर नामक बीमारी से 54 साल की उम्र में निधन हो गया। अपने शानदार अभिनय से दर्शकों के दिलों पर राज करने वाले शानदार अभिनेता इरफान खान का जन्म 7 जनवरी,1966 को जयपुर (राजस्थान) में हुआ था। परिवार की बात करें तो इरफान ने 23 फरवरी 1995 को अपनी मित्र  सुतापा सिकंदर से शादी की। उनके दो बेटे बाबिल और अयान हैं। आज इरफान खान की जयंति है।
 
इरफान ने अपनी उच्च शिक्षा के दौरान दिल्ली के  नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में दाखिला के लिए फार्म भरा, जहां इरफान का चयन हुआ और यहां से पढ़ाई करने के बाद इरफान ने मुंबई का रुख किया और अपना करियर बनाने के लिए संघर्ष करने लगे। इरफान खान के करियर पर नजर डालें तो वह काफी लंबा  और ऐतिहासिक है, उनके संघर्ष का दौर और कामयाबी तक का सफर आज के युवाओं के लिए एक जीती जागती मिसाल है, ओर वह एक आइडल हैं।
 
इरफान ने साल 1985 में इरफान ने अभिनय की दुनिया में कदम रखा। उन्होंने दूरदर्शन पर प्रसारित होने वाले धारावाहिक श्रीकांत से अपने अभिनय  करियर की शुरुआत की। इसके बाद इरफान ने कई मशहूर धारावहिकों में काम किया, जिसमें
भारत एक खोज, चाणक्य, चंद्रकांता, बनेगी अपनी बात आदि आदि में अभिनय करते नजर आये। साल 1988 में आई फिल्म सलाम बॉम्बे में छोटी सी भूमिका से इरफान ने बड़े परदे पर कदम रखा। इसके बाद इरफान कई फिल्मों में अभिनय करते नजर आये, जिसमें पान सिंह तोमर, द लंचबॉक्स',  'तलवार',  'हिंदी मीडियम',  'मकबूल', 'स्लमडॉग मिलेनियर', 'लाइफ ऑफ पाई', 'मुंबई मेरी जान', 'साहेब बीवी' और 'गैंगस्टर रिटर्नस' आदि शामिल हैं।  
 
जयपुर से था खास लगाव
राजस्थान की राजधानी जयपुर से उनका खास लगाव रहा। जयपुर उनका होम टाउन यानि वह शहर जहां वह पले बढ़े हुए। राजस्थान के ही एक ओर शहर टोंक में  उनका ननिहाल है। उनके बचपन का लंबा दौर टोंक में भी बीता, जबकि जयपुर उनकी कर्मस्थली रही। इसके अलावा पतंगबाजी के मामले में वह कोई समझौता नहीं करते थे। जयपुर में हर साल वह मकर संक्रांति पर अपने घर आते ओर अपने भाई दोस्तों केसाथ पतंग उड़ाया करते थे।
 
बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड में फैली शोक की लहर
इरफान खान के निधन के बाद भारत ही नहीं बल्कि विदेशी फिल्म इंडस्ट्रीज में भी शोक की लहर दौड़ गई। सोशल मीडिया पर भी  उनकी मौत पर कई ट्रेंड देखे गए। बॉलीवुड, हॉलीवुड ओर आम भारतीयो के  शोक संदेश से सोशल मीडिया अट गया। उनके जाने के दुख का अंदाजा इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने  उनके जाने पर कई दिनों तक ट्वीट किये ओर बड़े ही मन से कहते  रहे लौट आओ इरफान।
 
फोटो, इरफान खान के पुत्र बबिल खान के इंस्टाग्राम पेज से लिया गया है
 

News & Event

Tazaa Khabre