Headlines

देश

भारतीय नौसेना ने पूरा किया मालदीव के जहाज सीजीएस हुरावी की मरम्मत का कार्य

नई दिल्ली। नौसेना डॉकयार्ड, विशाखापट्टनम ने मालदीव के तटरक्षक जहाज एमएनडीएफ सीजीएस हुरावी की मरम्मत का कार्य पूरा कर दिया है। नौसेना डॉकयार्ड, विशाखापट्टनम के एडमिरल सुपरिंटेंडेंट,रियल एडमिरल, श्रीकुमार नायर ने बुधवार, 25 नवंबर 2020 को विशाखापट्टनम में कमांडिंग ऑफिसर मेजर हुसैन रशीद को यह जहाज सौंपा।
 
भारत में मालदीव के रक्षा सलाहकार कर्नल अहमद थोहिर भी इस अवसर पर आयोजित समारोह में उपस्थित थे और उन्होंने मालदीव सरकार की ओर से संतोष व्यक्त किया तथा कॉविड महामारी के बीच जहाज की मरम्मत के कार्य को उत्कृष्ट ढंग से किए जाने पर मॉरीशस सरकार के रक्षा मंत्री द्वारा भेजे गए संदेश को पढ़कर सुनाया। उन्होंने भारत सरकार, भारतीय नौसेना और एचक्यूईएनसी कोमरम्मत का कार्यसुचारू और सुरक्षित पूरा करने पर धन्यवाद दिया।
 
यह जहाज 22 फरवरी 2020 को मरम्मत कार्य के लिए विशाखापट्टनम पहुंचा था। 20 मार्च के बाद से ही कोविड-19 महामारी के कारण लगाए गए प्रतिबंधों के बीच भी नौसैनिक डॉकयार्ड द्वारा पर्याप्त सुरक्षा के साथ सावधानी पूर्वक योजना बनाकर उसका क्रियान्वयन किया गया। मुख्य प्रोपल्जन और सहायक उपकरणों के नवीनीकरण या प्रतिस्थापन के कार्य संपन्न किए गए।
 
जहाज के विद्युत उत्पादन उपकरण के नवीनीकरण से उसकी मजबूती और क्षमता में बहुत वृद्धि हुई है। इसके अतिरिक्त कई प्रणालियों और उपकरणों को भी पूरी तरह से दुरुस्त कर दिया गया है जिससे कि मालदीव तटरक्षक बल के भविष्य के परिचालनों के दौरान जहाज के बेहतर और निरंतर श्रेष्ठ प्रदर्शन को सुनिश्चित किया जा सके। जहाज का मरम्मत कार्य पूरा होने के बादबंदरगाह और समुद्र में सघन परीक्षण किया गया जिससे यह पूर्ण परिचीलन के लिए तैयार रहे।
 
एमएनडीएफ सीजीएस हुरावी (मूल रूप से आई एन एस तिल्लानचान्ग) 2001 में गार्डन रीच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स, कोलकाता में स्वदेश निर्मित गश्ती श्रेणी का जहाज है। बाद में 2006 में भारत सरकार ने दोनों देशों के बीच भागीदारी को मजबूत बनाने और हिंद महासागर क्षेत्र में नौवहन सुरक्षा में अधिक सहयोग के लिए इसे मालदीव को उपहार में दे दिया था।
 
नौसैनिक डॉकयार्ड, विशाखापट्टनम के एडमिरल सुपरिंटेंडेंट, रीयर एडमिरल श्रीकुमार नायर इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे और उन्होंने इस अवसर पर संबोधन भी दिया। उन्होंने कहा कि मरम्मत कार्य के दौरान कार्य कर रही पूरी टीम को कोरोना से संरक्षण और मरम्मत कार्य के लक्ष्य को हासिल करने के लिए सख्त उपाय किए गए।

News & Event

Tazaa Khabre