नेशनल

किसानों की आय दोगुनी करने के विषय पर दो दिवसीय सम्मेलन आयोजित होगा

कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय (एमओए और एफडब्ल्यू) राष्ट्रीय कृषि विज्ञान परिसर (एनएससी) पूसा नई दिल्ली में कृषि 2022- किसानों की आय दोगुनी करने के विषय पर एक राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन कर रहा है। यह दो दिवसीय सम्मेलन 19 और 20 फरवरी  को आयोजित किया जाएगा। भारत सरकार की पत्र सूचना वेबसाइट पर जारी प्रेस विज्ञाप्ति के मुताबिक कृषि और किसानों के कल्याण से संबंधित विभिन्न महत्वपूर्ण मुद्दों की पहचान करने और उनका उपयुक्त समाधान खोजने के लिए प्रधान मंत्री की सलाह पर इस सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है।

 

सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य सम्मेलन में ऐसे उपयुक्त सुझावों पर आम सहमति बनाने का प्रयास करना है, जो  2022 तक किसानों की आमदनी दोगुना करने के सरकार के दृष्टिकोण को आकार देने और उसे धारदार बनाने में मदद करेंगे। सम्मेलन में चर्चा का मुख्य केन्द्र कृषि क्षेत्र का मानवीय पहलू यानी कि किसान होगा।

 

सम्मेलन के लिए सात व्यापक विषयों पर चर्चा की जाएगी। सम्मेलन में किसानों, किसान संघठनेां, वैज्ञानिकों, अर्थशास्त्रियों, शिक्षाविदों, व्यापार उद्योग, व्यावसायिक संगठनों, गैर-सरकारी संगठनों, नीति निर्माताओं और अधिकारियों जैसे विभिन्न प्रतिभागियों को विभिन्न विषयों और उप-विषयों पर अपने सुझाव देने के लिए कहा गया ताकि इन  मुद्दों को कई पहलुओं से जांचा और परखा जा सके तथा इनपर व्यापक सुझाव एकत्र किए जा सकें।

 

सम्मेलन में कृषि, बागवानी, पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन, विपणन और सहकारिता सहित विभिन्न क्षेत्रों के वरिष्ठ अधिकारियों को आमंत्रित किया गया है, क्योंकि उनके सुझाव राष्ट्रीय और राज्य स्तर की नीतियों और कार्यक्रमों के समन्वय में महत्वपूर्ण होंगे। इन सुझावों के आधार पर बनाई जाने वाली  रणनीति को 2022 तक किसानों की आय को दोगुनी करने की सरकार की उस रणनीति में समाहित किया जाएगा।

 

जिसे अंतर-मंत्रालयी समिति अंतिम रूप देने में लगी है। पहले दिन, सम्मेलन में कृषि और किसान कल्याण मंत्री, हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल,  नीति आयोग के उपाध्यक्ष, कृषि और किसान कल्याण राज्य मंत्री तथा नीति आयोग के सदस्य जैसे कई गणमान्य लोग भाग लेंगे।

 

News & Event

Tazaa Khabre