Headlines

स्पोर्ट्स

पाकिस्तान में भी कम नहीं हैं बलबीर सिंह सीनियर के मुरीद, निधन पर कही यह बात
balbir singh senior

हॉकी के महान खिलाड़ी सीनियर बलबीर सिंह सीनियर की शख्सियत और खेल के मुरीद भारत में ही नहीं पूरी दुनिया के साथ साथ भारत के प्रतिद्विंद्वी देश पाकिस्तान में भी कम नहीं हैँ। उनके निधन पर पाकिस्तानी हॉकी खिलाडिय़ों ने भी दुख जताते हुए उनको आज के युवा खिलाडिय़ों के लिए रोल मॉडल बताया है।
 
विश्व कप 1975 में भारत ने पाकिस्तान को 2-1 से हराकर विश्व कप अपने नाम किया था। इस टीम के सदस्य रहे बलबीर सिंह सीनियर के निधन पर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के दिग्गजों ने शोक व्यक्त किया है।
 
तीन बार के ओलिंपिक स्वर्ण पदक विजेता बलबीर सिंह सीनियर को युवाओं के लिए ‘रोलमॉडल’ बताते हुए पाकिस्तान के दिग्गज हॉकी खिलाडिय़ों ने कहा कि वह महान खिलाड़ी ही नहीं बल्कि एक बेहतरीन इंसान भी थे जिनसे काफी कुछ सीखा जा सकता है।
 
इन्हीं में से एक सिडनी विश्व कप 1994 जीतने वाली पाकिस्तानी टीम के कप्तान और तीन बार के ओलिंपियन शाहबाज अहमद (शाहबाज सीनियर) ने बताया कि 1987 में लखनऊ में इंदिरा गांधी कप के दौरान बलबीर सीनियर ने उन्हें ‘प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट’ की ट्रॉफी दी थी और वह उनकी शख्सियत के कायल हो गए थे।
 
 

News & Event

Tazaa Khabre