Headlines

स्टेट्स

राजस्थान का लॉकडाउन 5.0, खुलेगा बाजार, यहां रहेगी सख्ती
lock down

जयपुर। दो महीने से ज्यादा के लॉकडाउन के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन 5.0 में छूट देने की आजादी राज्यों सरकारों को दे दी है। राजस्थान सरकार ने लॉकडाउन 5.0 को लेकर गाइडलाइन जारी की है। गाइडलाइन के मुताबिक  शहरों में मिलने वाली राहत और छूट या पाबंदियों को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर एसीएस राजीव स्वरूप ने गाइडलाइन जारी की है। राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने कोविड-19 महामारी की परिस्थितियों को देखते हुए छूट और पाबंदियों के बारे में जानकारी सार्वजानिक की है।
 
कोरोना मरीज वाले कंटेनमेंट जोन में कोई छूट नहीं।
 
बफर जोन में जिला प्रसाशन छूट तय करेगा।
 
पूरे राज्य में रात 9 से सुबह 5 बजे तक कफ्र्यू रहेगा।
 
स्कूल, कॉलेज, मॉल और धार्मिक स्थल बंद रहेंगे।
 
कार्यस्थलों के लिए भी शर्त तय की गई हैं ।
 
कार्यस्थलों पर हेल्थ प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।
 
65 साल से ऊपर की उम्र के बुजुर्ग, 10 साल से कम के बच्चे, गर्भवती महिलाओं को घर पर रहने की सलाह।
 
छोटी दुकान में 2 और बड़ी दुकान में एक समय में 5 से ज्यादा व्यक्ति अंदर नहीं रह सकते हैं।
 
बिना मास्क कोई बाहर नहीं निकल सकेगा ।
 
दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग रखनी होगी ।
 
ठेले-थड़ी वालों को भी सोशल डिस्टेंसिंग की पालन करना होगा ।
 
नाई की दुकान, सैलून, पार्लर में एक ग्राहक को सेवा देने के बाद उसे सैनेटाइज किया जाएगा।
 
सुबह से रात तक पार्क खुल सकेंगे ।
 
विवाह समारोहों के लिए एसडीएम को पूर्व सूचना देनी होगी। सरकारी कार्यालय पूरी स्टाफ क्षमता से काम कर सकेंगे।
 
पूरे राज्य में अब व्यावसायिक वाहनों को आवागमन की इजाजत होगी।
 
कंटेंमेंट जोन को छोड़ पूरे राज्य में बसें चल सकेंगी, सिटी बसें फिलहाल नहीं चलेंगी।
 
अग्रिम आदेश तक स्कूल-कॉलेज एवं अन्य शिक्षण संस्थान सहित सिनेमाहॉल, शॉपिंग मॉल्स और जिम खोलने का भी आदेश नहीं।
 
कंटेनमेंट जोन में सिर्फ इमर्जेंसी और जरूरी सेवाओं की सप्लाई की ही अनुमति दी जाएगी।
 
उल्लंघन करने पर धारा 144 के तहत कार्रवाई की जाएगी।
 
गाइडलाइंस में दी गई किसी भी प्रकार की छूट कोरोना हॉटस्पॉट या कंटेनमेंट जोन में लागू नहीं होगी।
 
रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक आने-जाने पर पाबंदी होगी।
 
इस दौरान सिर्फ पुलिस, मेडिकल स्टाफ, पैरामेडिकल स्टाफ और इमर्जेंसी ड्यूटी वालों को ही छूट मिलेगी।
 
 
 
 

News & Event

Tazaa Khabre